Viral Buzz

ख़ुद को हिंदुत्व का सर्वप्रथम रक्षक मानने वाली योगी सरकार के लिए इससे शर्मनाक कुछ नहीं हो सकता

Written by vivek

हमारे देश में जहां स्वयं देश को भारत माता कहकर पुकारा जाता है और नदियों को देवी कहकर पूजा जाता है ऐसे देश में महिलाओं ऐसी दुर्दशा बहुत ही शर्मनाक है| योगी सरकार यूँ तो उत्तरप्रदेश के देश का गौरवपूर्ण राज्य होने का दावा करती है और स्वयं के न्यायपूर्ण होने का गुणगान कीर्ति है| हिंदुत्व का बिगुल बजाने वाली यह सरकार गौरक्षा और मंदिर बनवाने के नारे लगाती है लेकिन उसी हिन्दुत्व का सदा से अभिमान रही नारी का हाल इस राज्य में सबसे बुरा है| नारी को लेकर अन्यायपूर्ण अवस्था में यह राज्य अव्वल है| हाल ही में हुए इस वाकये ने हमारे देश के सभ्य और सुदृढ़ होने के सभी दांवो को झुठलाकर हमें आज भी पुरानी दकियानूसी मानसिकता में जी रहे देशो की श्रेणी में लाकर खड़ा कर दिया|

 

यह भी पढ़े : http://firegoesviral.in/markjuckerberg/

देश के सबसे बड़े राज्य उत्तर प्रदेश के बुलंदशहर में पंचायत के तुगलकी फरमान पर पति ने अपनी पत्नी के दोनों हाथ पेड़ से बांधकर बेल्ट से बुरी तरह पीटा। पिटाई के दौरान महिला चीखती-चिल्लाती रही, बचने की कोशिश करती रही और लोगों से बचाने की गुहार लगाती रहीं। लेकिन वहां पर मौजूद भीड़ सिर्फ मूकदर्शक बन कर सब देखती रहीं और किसी ने भी इस महिला को बचाने की कोशिश नहीं की।इसी दौरान किसी ने इस घटना का वीडियो बना और सोशल मीडिया पर अपलोड कर दिया, जो अब तेजी से वायरल हो रहा है। ख़बरों के मुताबिक, घटना स्याना तहसील के लौंगा गांव में की है। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक बताया जा रहा है कि, गांव के एक पंचायत ने महिला को पीटने का आदेश दिया था। महिला के पति को शक था कि उसकी पत्नी का किसी और से संबंध है। गांव की पंचायत ने उस पर आरोप लगाए और उस पर पीटने का फैसला सुना दिया।

सोशल मीडिया पर वायरल हो रहें इस वीडियो में दिख रहा है कि, एक शख्स महिला के दोनों हाथ पेड़ से बांधकर बेल्ट से बुरी तरह पीट रहा है और कई लोग महिला की पिटाई होते देख रहे हैं लेकिन कोई भी उनकी मदद को आगे नहीं आता है। शख्स महिला को पीटते हुए कह रहा है कि ‘अब भाग के दिखा।’ वीडियो में दिख रहा है कि, पिटाई खत्म होते-होते महिला बेहोश हो गई और बंधे हुए हाथों के बल पेड़ से लटक गई।रिपोर्ट के मुताबिक, इस घटना का विडियो वायरल होने के बाद गुरुवार को सात नामजद और एक दर्जन अज्ञात लोगों के खिलाफ केस दर्ज करते हुए पुलिस ने तीन आरोपियों को गिरफ्तार किया है। फिलहाल, पुलिस अब इस पूरे घटना की जांच कर रही है। रिपोर्ट के मुताबिक, स्याना थाना प्रभारी अल्ताफ अंसारी ने बताया कि मामले बुधवार की रात उनके संज्ञान में आया, उन लोगों ने विडियो की जांच की और गुरुवार को जांच पूरी ही गई।

यह भी पढ़े : http://firegoesviral.in/avasyojana/

इस मामले में पुलिस ने सात लोगों के खिलाफ नामजद और एक दर्जन अज्ञात लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई है। पूर्व प्रधान शेर सिंह, महिला के पति सौदान सिंह और एक अन्य आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया है। वहीं, बाकी लोगों की गिरफ्तार करने के लिए उनकी तलाश की जा रही है|

3 Comments

Leave a Comment

Show Buttons
Hide Buttons