Viral Buzz

जब एक सरकारी कर्मचारी की लापरवाही ने ले ली निर्दोष व्यक्ति की जान, 8.6 लाख बिजली का बिल देख की खुदखुशी|

Written by vivek

हाल ही में औरंगाबाद से एक ऐसा मामला सामने आया| जहाँ एक सरकारी कर्मचारी की लापरवाही की वजह से एक निर्दोष व्यक्ति की जान चली गई| बिजली मीटर रीडिंग में हुई चूक के चलते तैयार 8.6 लाख रूपये का बिल जब एक सब्जी वाले को थमा दिया गया तो उसको बड़ा झटका लग गया और इतनी बड़ी रकम देख उसने फ़ासी लगा ली|
महाराष्ट्र के औरंगाबाद में 40 वर्षीय जग्गनाथ शैलके को अप्रैल के महीने के लिए यह 8.6 लाख का बिल मिला, यह उसे उसके टीन और छप्पर के रह रहे कमरे के लिए मिला| जिसमें वह पिछले बीस सालो से अपने परिवार के साथ रह रहे थे| बिल के मुताबिक़ उन्होंने 55,519 यूनिट बिजली की खपती की थी जिसे देख घबराए जग्गनाथ ने खुदखुशी कर के जान दे दी|
गलत मीटर से बना लम्बा-चौड़ा बिल

यह भी पढ़े : http://firegoesviral.in/sonamkapoor-2/

 


जग्गनाथ ने सुसाइड नोट में लिखा कि उन्होंने इतना बड़ा बिल देखने के बाद जान देने का फैसला किया है उधर मामले में कार्यवाई करते हुए महाराष्ट्र राज्य विद्युत वितरण प्राइवेट लिमिटेड ने उस क्लर्क को सस्पेंड कर दिया है जिसकी लापरवाही के कारण ऐसी बड़ी गलती हुई|
क्लर्क ने मीटर रीडिंग्स 6,117.8 KWH की जगह 61,178 KWH और इसी कारण जगन्नाथ का बिल इतना लम्बा चौड़ा आया|
एकसीडेंटल डेथ का केस किया गया दर्ज|

यह भी पढ़े :http://firegoesviral.in/neha-dhoopiya/
महाराष्ट्र पुलिस ने फिलहाल इसे एकसीडेंटल केस के तौर पर दर्ज किया है| हालांकि डीसीपी राहुल श्री राम को बताया है की जग्गनाथ के परिवार वालो ने ज्ञापन देकर क्लर्क के खिलाफ आत्म हत्या के लिए उकसाने के मामला दर्ज करने की बात की है| इतना ही नहीं जग्गनाथ के परिवार वालो ने विभाग के अधिकारियों पर यह भी आरोप लगाया है की वे जगनाथ पर बिल जमा कराने का दबाव डालते थे और बिल जमा ना होने पर घर चीन जाने की धमकी भी देते थे|

Leave a Comment

Show Buttons
Hide Buttons